त्रिशनित अरोड़ा की कंपनी टीएसी के नाम से चलती है जो साइबर का काम करती हैं| आज के समय में सीबीआई, रिलायंस, गुजरात पुलिस और पंजाब पुलिस इनकी कंपनी की सेवाएं ले रही है| बस इतना ही नहीं साल 2013 में पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने त्रिशनित को सम्मानित किया था. त्रिशनित ने  कई किताबें भी लिखी हैं| त्रिशनित अरोड़ा का ये सपना है कि वे एक दिन बिलियन डॉलर की  कंपनी खड़ी करेंगे| इसके लिए वे मेहनत भी करते हैं और अपनी कंपनी को इस मुकाम पर ले जाने के लिए बहुत से जतन भी करते हैं| उनकी कंपनी में बहुत से लोग काम करते हैं, जिन्होंने एमबीए, बीटेक, एमटेक और भी कई प्रोफेशनल कोर्सेस वाले काम करते हैं|
त्रिशनित के अनुसार एक दिन वे अपनी कंपनी को मल्टीनेशनल बना कर ही दम लेंगे और तब उनके पास बिलियन डॉलर का टर्नओवर हो जाएगा| 2 नवंबर, 1993 को पंजाब के लुधियाना में जन्मे त्रिशनित अरोड़ा 24 साल की उम्र में TAC कंपनी के सीईओ और फाउंडर हैं| त्रिशनित के अनुसार, वे बचपन से ही महत्वकांक्षी रहे हैं  लेकिन उनका मन पढ़ाई में नहीं लगता था| जब भी वे फ्री होते तो कंप्यूटर में गेम खेलने बैठ जाते थे, इस वजह से परेशान होकर उनके पापा ने कंप्यूटर में पासवर्ड लगाया था लेकिन त्रिशनित को पासवर्ड करना आता था|
इन सब चीजों से तंग आकर त्रिशनित के पापा ने उन्हें एक नया कंप्यूटर लाकर दे दिया| इसी बीच उनके 8वीं के पेपर हुए और वे फेल हो गए| त्रिशनित के प्रिंसिपल ने उनके पिता को बुलाया और उनके सामने त्रिशनित को फटकारा, इससे नाराज होकर उनके पापा ने उनसे पूछा कि जिंदगी में आगे क्या करना चाहते हो| जवाब में त्रिशनित ने पढ़ाई छोड़ने का जिक्र किया और आगे चलकर छोड़ दिया, फिर अपना सारा समय कंप्यूटर में लगाना शुरु कर दिया|

20 साल की उम्र में वो कंप्यूटर फिक्सिंग और सॉफ्टवेयर क्लीनिंग के छोटे प्रोजेक्ट लेने लगे और इसमें पहले महीने त्रिशनित ने लगभग 60 हजार रुपये कमाए| इन पैसों को त्रिशनित ने बिजनेस में लगाया और 21 साल की उम्र में टीएसी के नाम की एक साइबर कंपनी बना दी| ये कंपनी नेटवर्किंग को सुरक्षित रखने का काम करती है|

0 comments:

Post a Comment

 
Top